Saturday, August 18, 2012

अंतहीन प्रतीक्षा

उदासी
खिन्नता भरी उदासी
तुम्हारी याद में
अंतहीन प्रतीक्षा !

प्रियतम
सपनो का
आधा डूबा चाँद
और
रंगहीन  परीक्षा !






8 comments:

  1. "प्रियतम सपनो का आधा डूबा चाँद"
    बहुत सुन्दर उपमा...सुन्दर भाव

    ReplyDelete
  2. अद्धभुत अभिव्यक्ति :)

    ReplyDelete
  3. ईद मुबारक !
    आप सभी को भाईचारे के त्यौहार की हार्दिक शुभकामनाएँ!
    --
    इस मुबारक मौके पर आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (20-08-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete

  4. बहुत सुन्दर , बधाई स्वीकारें.
    कृपया मेरे ब्लॉग पर भी पधारकर अपना स्नेह प्रदान करें, आभारी होऊंगा .

    ReplyDelete
  5. अंत हीन प्रतीक्षा किसी की ...
    भावभरी अभिव्यक्ति ...

    ReplyDelete